[Best] What is Processor in Hindi | प्रोसेसर क्या है

what is processor in hindi

Processor in Hindi

Hello फ्रेंड्स Be Techy के इस लेख में आपका स्वागत है| इलेक्ट्रॉनिक गैजेट में Processor, ऑपरेटिंग सिस्टम(Operating System), रेम(Ram) ये कुछ महत्वपूर्ण कॉम्पोनेन्ट है| इस लेख में हम आपको हम आपको प्रोसेसर की हिंदी में (Processor in Hindi) महत्व पूर्ण Information देंगे जो की आपके लिए जाननी सबसे महत्व पूर्ण है| हममे से लगभग हर कोई प्रति वर्ष कोई न कोई नया Electronic Gadget खरीदते है| कोई भी Gadget खरीदने से पहले हम सबसे पहले उसके सन्दर्भ में सभी कॉम्पोनेन्ट को अच्छे से जांच करते है| Processor किसी भी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेस के लिए सबसे महत्व पूर्ण कॉम्पोनेन्ट है|

आसान भाषा में कहे तो प्रोसेसर(Processor) किसी भी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेस में अन्दर होने वाली सभी प्रक्रिया के लिए जवाबदार होते है| Processor कैलकुलेशन करता है , एक ही समय में वह करोडो से अधिक कैलकुलेशन करके वह सॉफ्टवेर और हार्डवेयर के बिच में में कम्युनिकेशन करता है और रिक्वायरमेंट्स के अनुसार Output देने में मदद करता है|

प्रोसेसर क्या है? What is Processor in Hindi?

Mobile में Processor और कंप्यूटर में CPU(Central Processing Unit) के नाम से जाना जाता है|प्रोसेसर एक ही समय में करोडो कैलकुलेशन करके हार्डवेयर और सॉफ्टवेर के बिच कम्युनिकेशन करता है और रिक्वायर्ड आउटपुट देता है| प्रोसेसर को समजने के लिए हमें प्रोसेसर के सब कॉम्पोनेन्ट को समजने की आवश्यकता है| इलेक्ट्रोनिक डिवाइस में होने वाली सभी गतिविधि की खबर प्रोसेसर को होती है| इसीलिए CPU को कंप्यूटर और और प्रोसेसर को Mobile का दिमाग कहा जाता है|

प्रोसेसर को समजने के लिए उसके चार सबसे महत्व पूर्ण फेक्टर को समजने की आवश्यकता है| प्रोसेसर के महत्वपूर्ण फैक्टर कुछ इस तरह है|

Important Factor of Processor in Hindi

  • आर्किटेक्चर (Architecture)
  • ट्रांजिस्टर का कद (Size of Transistor)
  • कोर की संख्या (Number of Core)
  • आवृत्ति (Frequency)

अब हम बारी-बारी से एक-एक को समजेंगे की यह Processor पर कैसे असर डालते हे और उनकी वैल्यू कितनी होनी चाहिए|

आर्किटेक्चर (Architecture)

Processor का Architecture मतलब प्रोसेसर(Processor) की डिजाईन| प्रोसेसर को किस कंपनी के द्वारा डिजाईन किया गया है और वह कितना लेटेस्ट है उस बात से यह तय होता है की प्रोसेसर(Processor) कितना अच्छा है|

processor की डिजाईन में कई तरह की डिजाईन आती है| Cortex A-5, Cortex A-7, Cortex A-9, Cortex A-11, Cortex A-15, Cortex A-53, Cortex A-57 जैसी कई डिजाईन होती है|इसे आसन भाषा में समजने के लिए बस इतना है की Cortex A-5,से Cortex A-7 अच्छा माना जाता है और Cortex A-53 से Cortex A-57 को अच्छा माना जाता है|

ट्रांजिस्टर का कद (Size of Transistor)

transistor की साइज़ भी एक काफी महत्व पूर्ण फैक्टर है प्रोसेसर को समजने और इसकी कार्यक्षमता का अंदाज़ा लगाने के लिए| प्रोसेसर(Processor) में Transistor लाखो की संख्यामे होते है| transistor की साइज़ जीतनी भी कम होंगी प्रोसेसर को इतनी अच्छी स्पीड प्राप्त होगी और प्रोसेसर अपनी महत्तम रफ़्तार से कार्य कर सकेंगा|

कई तरह की कंपनी transistor को बनाती है| जैसे की Samsung, Taiwan Semiconductor, Micron Technology, Qualcomm, Intel, SK Hynix, Broadcom, Texas Instruments | इन सभी में से सबसे प्रचलित transistor मेकिंग कंपनी कोई है तो वह सैमसंग है|

Transistor size in Samsung

सैमसंग अपने प्रोसेसर जो की Exynos के नाम से देता है उसमे वह सबसे छोटी साइज़ का Processor देता है| सैमसंग पहले 10nm से लेकर 14nm तक के साइज़ के Transistor का Use करता था| लेकिन वह अभी इस साइज़ को और भी छोटा करने में लगा हुआ है| शायद वह 2020 में 5nm के साइज़ का भी उत्पादन कर सकता है|

Transistor Size in Qualcomm

Qualcomm भी एक transistor मेकिंग कोम्पनी है वह भी एक मध्यम रेंज के प्रोसेसर का उत्पादन करती है| सामान्य तुअर पर Qualcomm के transistor की साइज़ 16nm से लेकर 20nm tak की होती है|

Transistor size of Mediatek

Mediatek के Processor में transistor की साइज़ अन्य फेमस कंपनी के परिपेक्ष्य में अधिक बड़ी होती है इसीलिए उसकी कीमत थोड़ी सस्ती होती है| सस्ते Mobile में इस तरह के प्रोसेसर काफी दिखने को मिलते है| जो यूजर को कम पैसे खर्च पर भी अच्छी सर्विस डे सकता है|

Mediatek के प्रोसेसर में 26 Nano Meter तक के Transistor आते थे, लेकिन अभी उसने अपने कई पावरफुल प्रोसेसर को लांच किया है जिसमे अपनी transistor की साइज़ को बहेतर किया है|

कोर की संख्या (Number of Core)

यह फैक्टर सबसे आम और ज्यादातर लोगो इसे ही आधार मानकर प्रोसेसर(Processor) की गुणवत्ता का अंदाजा लगाते है| इसे समजने का सबसे आसान तरीका है की कोर की संख्या जीतनी अधिक होंगी प्रोसेसर उतनाही पावरफुल होगा| एक्साम्प्ल के तौर पर समजे तो Dual Core से Quad Core और Hexa Core से Octa Core ज्यादा Power full होता है |

किसी भी Processor के लिए साइज़ और Design के साथ Core की संख्या भी उतनी ही महत्व रखती है | अगर Core की संख्या के साथ साइज़ और Design ठीक से मैच नहीं होते ऐसी परिस्थिति में प्रोसेसर(Processor) अच्छे से अपना कार्य नहीं कर सकता और प्रोसेसर से अच्छी स्पीड नहीं मिल सकती|

आवृत्ति (Frequency)

प्रोसेसर(Processor) की स्पीड को समजने के लिए सबसे महत्वपूर्ण अगर कोई भी फैक्टर है तो वह फ्रीक्वेंसी है| जब tak हम फ्रीक्वेंसी के सन्दर्भ में कुछ नहीं जानते तब tak प्रोसेसर की स्पीड को समजना असंभव सा है|

Frequency का मतलब यह होता है की वह कितने Clock Per Second कार्य करता है | Frequency को Hertz में मूल्यांकन किया जाता है | अगर कोई Processor की Frequency 1Ghz तो उसक मतलब यह होता है की वह एक Second में 10 Crore Times कार्य करेंगा | processor के फैक्टर को अच्छे से समजाने के बाद अब हम वह कार्य कैसे करता है उसे समजते है|

Fact processor in Hindi
Processor in Hindi : Fact

प्रोसेसर कैसे कार्य करता है (How the processor works Hindi)

प्रोसेसर(Processor) के कार्यो को समजने के लिए आप इस क्रम को समजे जिसे आसानी से सब समज आ जाएगा|

Fetch > Decode > Execute > writeback

Fetch:

इसमे इनपुट देने पर जरूरी स्थान से उपयोगी माहिती को लाने का कार्य होता है| जब भी आप कोई भी इनपुट देंगे तो प्रोसेसर(Processor) उसके अनुसार जो रो फाइल हो या कुछ भी जो कही पर भी स्टोर हो वहा से लाता है| इस प्रक्रिया को fetch कहा जाता है|

Decode:

fetch की हुई इनफार्मेशन को डिकोड करना काफी आवश्यक है| अब एक साथ कई सार्ये कार्य प्रोसेसर के द्वार एक ही समय पर होता है इसी लिए प्रोसेसर(Processor) को यह पहले सुनिश्चित करना होता है की fetch की गयी इनफार्मेशन के लिए सही जगह और core कोनसी है| डिकोड होने के बाद वह काफी कैलकुलेशन अपने आप करता है जिसमे वह करोडो से अधिक कैलकुलेशन करके require आउटपुट को बनता है|

Execute

इसका सीधा मतलब होता है अंजाम देना| जब भी आप fetch और डिकोड होने के बाद आउटपुट तैयार होता है तो उसे दे दिया जाता है| रिक्वायर्ड आउटपुट को देने की प्रक्रिया को Execute कहा जाता है|

Write back

Output देने के बाद नयी फाइल को स्टोर करने की प्रक्रिया को आप writeback क्र तौर पर समज सकते है| इस प्रक्रिया को इस लिए किया जाता है की जब भी आप फिरसे उस एप्लीकेशन या कुछ भी फाइल ओपन करे तो आपको लेटेस्ट स्टोर की गयी इनफार्मेशन प्राप्त हो|

कुछ ऐसी कंपनी जो मोबाइल के लिए प्रोसेसर को बनाती है|

1) Samsung: जो Exynos प्रोसेसर को बनाती है| उसमे आपको Quad core और Octa core Processor मिल सकता है | साइज़ भी इनकी बहोत कम होने की वजह से Mobile के लिए यह प्रोसेसर काफी अच्छा माना जाता है |

2) Qualcomm Snapdragon : यह Mobile के लिए Processor बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी में से एक कंपनी है | यह Arm Architecture का Use करती है | इस कंपनी के 800 के सीरिज के प्रोसेसर(Processor) काफी अच्छे माने जात है | और 200 के सीरिज के Processor को Low Range Mobile के लिए बनाये जाते है |

3) NVIDIA : यह कंपनी अपने प्रोसेसर में 1 core का Use ज्यादा करती है | यह एक्स्ट्रा जो Core होता है वह Sleeping Mode में कार्य करता है जिसकी वजहसे बैटरी Backup अच्छा मिलता है |

4) Mediatek : यह कंपनी सबसे सस्ते प्रोसेसर को बनाती है | जिस भी Mobile में यह Processor का Use होता है वह Mobile दूसरो की मुकाबले में काफी सस्ते होते है | लेकिन इस तरह के Processor में Heating के सम्बंधित परेशानी बहोत दिखने को मिलती है| Multi Tasking में भी अच्छे से कार्य करने में असमर्थ होता है|

कंप्यूटर के लिए प्रोसेसर (Computer Processor in Hindi)

कंप्यूटर में प्रोसेसर के नाम पर सबसे अधिक अगर कोई कंपनी है तो वह Intel है| mobile की तरह कंप्यूटर में भी कोर आते है| कंप्यूटर के प्रोसेसर(Processor) को समजने के लिए आपको core की संख्या के साथ उसकी फ्रीक्वेंसी रेंज, कैश मेमोरी, टर्बो बूस्ट, हाइपर थ्रेडिंग, जैसी चीजो को समजनी चाहिए| हम यहाँ पर उसके लिए आपको एक टेबल दे रहे है जिसे आपको यह समजने माँ आसानी हो|

ComputerCore i3 Core i5 Core i7
Cache Memory3-4MB 6MB 8MB
Frequency3.4-4.2GHz 2.4-3.8GHz 2.9-4.2GHz
cores 244
Hyper-Threading Yes NoYes
Turbo Boost No Yes Yes

3 thoughts on “[Best] What is Processor in Hindi | प्रोसेसर क्या है”

  1. Pingback: What is NFC and its use in Hindi - Be Expensive

  2. Pingback: RAM क्या है | Mobile RAM को कैसे बढ़ाये - Be Expensive

  3. Pingback: Android Root क्या है और Android Root के फायदे - Be Expensive

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *