Connect with us

Be Techy

What is a computer and its types in Hindi

Published

on

what is computer in hindi

हममे से बहोत से लोग अब यज जानते होंगे की computer क्या है लेकिन उनको उसके पीछे के सही कहानी नहीं पता होगी| कंप्यूटर की खोज एक रोचक और अत्यंत प्रभावी है|इसी लिए हम आपके लिए कंप्यूटर क्या है उसके पीछे की हिस्ट्री क्या है और कंप्यूटर के प्रकार कितने है उस सभी विषय पर बात करेंगे|

आज कल काफी लोगो के जीवन सिर्फ computer पर आधारित हो गए है| कंप्यूटर टेक्नोलॉजी काही हिस्सा है| लिकं क्या आप जानते है की कंप्यूटर का आज जो भी उपयोग हो रहा है वह उदेश्य इसके पीछे कभी नहीं था| आज हम copmuter कर प्रयोग अपने ऑफिस के कार्य और entertainment के लिए करते है लेकिन कंप्यूटर के लिए ऐसा कभी सोचा नहीं गया था|

कंप्यूटर की हिस्ट्री काफी पुराणी है | चार्ल्स बैबेज ने 1822 में स्ट्रीम ड्राइविंग कैलकुलेशन मशीन को खोज की थी इसीलिए उन्हें कंप्यूटर के पिता माना जाता है| लेकिन इससे पहले भी 1801 में France, Joseph Marie Jacquard ने मशीन बनायी थी जो फैब्रिक की डिजाईन के लिए उपयोग में ली जाती थी| इस पर हम कभी आपको विस्तार से लेख देंगे|

computer क्या है?

कम्प्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जो इनफार्मेशन के साथ कार्य करता है| लैटिन भाषा का शब्द computare पर से कम्प्यूटर शब्द को लिया गया है| लेटिन भाषा में computare का अर्थ होता है अंकगणित|

computer पर यूजर के द्वारा raw data input किया जाता है| इनपुट किये गए डाटा को पहले से किये गए प्रोग्राम में प्रोसेस होते है और बाद में तय किया गया आउटपुट देता है |

computer के मूल घटक हैं:

इनपुट / आउटपुट डिवाइस (Input/Output Device)
Central Processor Unit (CPU)
Memory
storage

चार्ल्स बैबेज: कम्प्यूटिंग के पिता के नाम से जाना जाता है|

Father of computer

1837 में पहली बार मैकेनिकल कंप्यूटर “एनालिटिकल इंजन” का अविष्कार किया था| उस समय “एनालिटिकल इंजन” ALU(अरिथमेटिक लॉजिक यूनिट) पर कार्य करता था| इसमे पञ्च कार्ड में रूप में ROM का प्रयोग किया जाता था|

Computer का वर्गीकरण:

कम्प्यूटर का वर्गीकरण कई आधार पर किया जाता है| जैसे की डेटा प्रोसेसिंग क्षमताओं, कार्यक्षमता, आकार और कंप्यूटर से लिए जाने वाले कार्य के आधार पर computer वर्गीकृत किया जाता है। अब हम बारी बारी सभी कंप्यूटर का वर्गीकरण देखेंगे|

आकार के आधार पर computer को वर्गीकृत किया जाता है:

मिनी computer:

यह एक प्रकार से midsize कंप्यूटर है जो की माइक्रो से बड़े, मेनफ्रेम और वर्कस्टेशन के बीच कार्य करते है| इसे मल्टीप्रोसेसिंग सिस्टम भी कहा जाता है जो सबसे पहले 1960 में introduce हुए थे| यह 4 से लेकर 200 यूजर को सपोर्ट करता है|

मेनफ्रेम:

यह कंप्यूटर काफी महंगा है जो सुपर computer की तुलना में भी अधिक कार्य एकसाथ करने की क्षमता रखता है| यह एक से अधिक कार्य एक साथ करने की क्षमता में सुपर कंप्यूटर को मात दे है लेकिन एकल कार्य करने में सुपर कंप्यूटर इससे तेज है| यह कंप्यूटर काफी महंगा है|

सुपर computer:

यह सभी कंप्यूटर में सबसे तेज और शक्तिशाली कंप्यूटर माना जाता है| यह सबसे महंगे कंप्यूटर भी माने जाते है| इसे ख़ास प्रकार के कार्य करने के लिए बनाए जाते है| इसमे गणनाओं को भरी मात्र में करके आउटपुट निकाला जाता है| इस तरह के कंप्यूटर का उपयोग परमाणु उर्जा अनुसन्धान, एनिमेटेड ग्राफ़िक्स, और खनिज की शोध जैसे विषय में उपयोग होता है| मेनफ्रेम कंप्यूटर के मुकाबले यह एकल कार्य करने में काफी शक्तिशाली है लेकिन एक से अधिक कार्य को एकसाथ सांझी तरीके से कार्य करना हो तब मेनफ्रेम कार्य करता है|

पर्सनल computer:

यह कद में छोटे होते है और इसे भी कई कार्यो करने के लिए बनाया जाता है| इसकी कीमते दुसरे कंप्यूटर की सापेक्ष में कम होती है और वह कद में भी छोए होते है| डेस्कटॉप, लैपटॉप, नोटबुक आदि इसी श्रेणी में आते है|

कार्य के आधार वर्गीकृत

कार्य के आधार पर कंप्यूटर को दो विभाग में वर्गीकृत किया जाता है|

सामान्य कार्य के लिए

ये computer कई प्रोग्राम को स्टोर कर सकता है| उनमें कार्य करने की गति की कमी होती है।

विशिष्ट कार्य के लिए

इन computer को एक विशिष्ट कार्य करने या किसी विशिष्ट समस्या को संभालने के लिएa होता है।

डेटा के आधार पर कम्प्यूटर का वर्गीकरण

एनालॉग कम्प्यूटर:

इस तरह के कंप्यूटर किसी समस्या के हल के लिए बनाए जाते है जो निरंतर यांत्रिक, विद्युत या हाइड्रोलिक जैसी भौतिक घटनाओं का उपयोग करते हैं।

डिजिटल कम्प्यूटर:

यह कंप्यूटर आमतौर पर बाइनरी नंबर सिस्टम पर कार्य करता है| बाइनरी नंबर यानी 0 औए 1 पर यह कार्य करता है| किसी भी डाटा को वह ट्रांसमिट करना या कुछ भी कार्य वह 0 औए 1 का संचलान करके करता है|

हाइब्रिड computer (एनालॉग और डिजिटल का संयोजन)

इस तरह के कंप्यूटर डिजिटल computer और एनालॉग computer का संयोजन है और इसे साथ में लेकर कार्य करने में सक्षम है|

हमें आशा है की आपको कंप्यूटर पर हमारा यह लेख पसंद आया होगा जिसमे हमने कंप्यूटर के सन्दर्भ में काफी रोचक जानकारी जैसे की कंप्यूटर क्या है, उसे कैसेवर्गीकृत कैसे किया जाता है सभी का उल्लेख कीया है| हम ऐसे ही आपको कंप्यूटर के सन्दर्भ में सभी इनफार्मेशन को आपके साथ शेयर करेंगे| जिसे आपको कंप्यूटर के बारे में सबकुछ ज्ञान हो जाए|

अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आये तो इसे शेयर करे और अधिक से अधिक लोगो को यह महत्वपूर्ण इनफार्मेशन का लाभ दे| आभार|

यह भी पढ़े

Advertisement
1 Comment

1 Comment

  1. Pingback: Improve WhatsApp Security with 10 steps Hindi - Be Expensive

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

Advertisement

Trending