Connect with us

Be Updated

Tour of Duty क्या है? | इसके क्या लाभ है?

Published

on

Tour of Duty kya hai

क्या आप जानते है की Tour of Duty क्या है?(what is tour of Duty) अगर नहीं जानते तो आपके लिए हमारा यह आर्टिकल Tour of Duty क्या है उसे समजने में काफी मदद करेंगा|

Hello Be Expensive Reader आज के इस लेख में हम आप लोगो के साथ ही बहोत ही इम्पोर्टेन्ट आर्टिकल share करने वाले है| हमें आशा है की आपको हमारा यह टूर ऑफ़ ड्यूटी (Tour of Duty) का आर्टिकल पसंद आएगा| अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आये तो इसे अधिक से अधिक लोगो के साथ शेयर करे ताकि यह इनफार्मेशन और भी लोगो के साथ पहुच सके| आज के इस लेख से हम आपको What is Tour of Duty पर बात करेंगे|

हाल ही में न्यूज़ और कुछ और मीडिया रिपोर्ट्स में ऐसी खबर चल रही थी की भारत सरकार के द्वारा Tour of Duty कार्यक्रम को चलाया जाएगा| भारत सरकार के द्वारा अभीतक(20 मई) इसे घिषित नहीं किया है| आज के इस लेख के माध्यम से हम Tour of Duty क्या होती है और ये किस तरह से कार्य करेंगा और आने वाले भविष्य में Tour of Duty से क्या बदलाव दिखने को मिल सकता है उन सभी पॉइंट पर हम चर्चा करेंगे|

सबसे पहले हम Tour of Duty क्या है उस पर बात करते है|

टूर ऑफ़ ड्यूटी क्या है(What is Tour of Duty)

अभी तक आर्मी में ज्वाइन होने के सिर्फ दो ही रास्ते थे| आप आर्मी को परमानेंट ज्वाइन कर सकते है या फिर short सर्विस के जरिये इसे ज्वाइन कर सकते है| परमानेंट कमीशन से अगर आर्मी को ज्वाइन करते है तो उसमे नौकरी का पीरियड लगभग 54 साल का होता है और कुछ रैंक पर भी आधारित होता है| short service कमीशन से आर्मी को ज्वाइन करने पर आपको 12 से 14 साल के समय पीरियड तक नौकरी करनी होती है|

लेकिन अब सरकार नयी योजना को शुरू करने जा रही है जो Tour of Duty के नाम से जानी जाएगी|

Tour of Duty = An internship with Military

Meaning of Tour of Duty

Tour of Duty में सरकार के द्वारा योग्य उमेद्वारो की एग्जाम लेकर उन्हें तीन साल के सेना में भरती कराया जाएगा| इसे एक तरह की इंटर्नशिप भी कही जा सकती है| सरकार यह सोच रही है की अभी भारत में काफी युवा है और उनमे देश भक्ति भी है जिसे आर्मी के लिए उपयोग में लिया जा सकता है|

भारत सरकार के इस कार्यक्रम Tour of Duty के माध्यम से युवाओं जो भारत की आर्मी की लाइफ जीना चाहते है और देश सेवा में अपना सहयोग देना चाहते है वो जुड़ सकते है| यहाँ पर तिन साल के टाइम पीरियड तक आर्मी को ज्वाइन किया जा सकेगा|

Tour of Duty से आर्मी के साथ जुड़ने के लिए भी किसी भी उमीदवार को आर्मी के समकक्ष सभी एग्जाम को क्लियर करना पड़ेगा| Tour of Duty के लिए आर्मी के जैसे ही उमीद्वारो का चयन होगा|

Tour of Duty के फायदे (Benefits of Tour of Duty)

यह उन लोगो के लिए काफी लाभकारी है जो आर्मी को अपनी सेवा देना चाहते है लेकिन उसे career के तौर पर चुनना नहीं चाहते है| यहाँ इच्छुक और लायक़ उमीदवार सिर्फ तीन साल के लिए ज्वाइन कर सकता है|

इससे युवा में एक अलग प्रकार व्यक्तित्व खिल सकता है जो और भी जगह जैसे की कॉर्पोरेट क्षेत्र में भी देश की मदद कर सकता है|

इनमे भी जो भी job करना चाहते है उन्हें सभी प्रकार के लाभ दिए जायेगे जो एक आर्मी में मिलते है| लेकिन यह लाभ सिर्फ तिन साल के लिए ही होगे|

इनवर्स इंडक्शन क्या है(what is Inverse Induction)

इनवर्स इंडक्शन भी आर्मी का एक नया model है जिस के द्वारा आर्मी नए लोगो को लेना चाहती है| इस model के आधार पर सेंट्रल आर्म पुलिस फ़ोर्स में से आर्मी में लोगो को भारती किये जायेगे| इससे आर्मी को सुविधा होगी और जल्द ही उसकी जो जरूरियात है उसे पूरा किया जाएगा| सेंट्रल आर्म पुलिस फ़ोर्स से आर्मी में शामिल करने पर तालीम के पीछे अधिक समय और पैसे का व्यव कम होंगा| इनवर्स इंडक्शन के बारे में भी अभी सरकार सोच रही है|

इसमे भी एक ख़ास बात यह है की इसमे सो जो लोग आर्मी को ज्वाइन करते है वह सात साल तक ही अपनी सेवा आर्मी में देंगे और बाद में वह फिरसे अपनी पहली वाली ड्यूटी को ज्वाइन कर लेंगे|

Tour of Duty लाने के पीछे का करण
(Reason Behind Tour of Duty )

सरकार के द्वारा Tour of Duty को लाने के पीछे कई तरह के कारण है| इनमे से दो प्रमुख कारण है पेंशन के पीछे के खर्च को बचाना और जो वार्षिक और पुरे career में जो खर्च एक जवान पर होता है उसे भी बचाना जिसे आर्मी के बजट पर पैसे को कम निवेश किया जा सके|

अभी हाल में एक रिपोर्ट के आधार पर देखे तो एक short service कमीशन पर जो नौकरी करता है और जिनका 10 साल का समय पीरियड उनपर आर्मी के द्वारा पुरे कार्यकाल में 5.12 करोड़ रुपये खर्च होते है जब की 14 साल की job करते है उन पर पुरे जीवन में 6.83 करोड़ खर्च होते है|

अगर Tour of Duty के खर्च की बात करे तो उसमे तिन साल के लिए एक जवान पर खर्च 80 लाख के आसपास का आता है| जिसे short service के साथ कम्पेर करने पर 4.50 करोड़ की बचत होती है| जिससे आर्मी के पैसे को बचाया जा सकता है|

अगर एक जवान जो की उसका कार्यकाल 17 वर्ष का होता है उनके पीछे सरकार का कुल खर्च एक जवान पर जो खर्च कराती है उसे Tour of Duty के माध्यम से 11 करोड़ की बचत की जा सकती है|

Tour of Duty के आर्थिक फायदे
(Economic Benefits of Tour of Duty)

भारत में डिफेन्स के लिए जोभी बजट दिया जाता है उसका तकरीबन 28.4 % हिस्सा सिर्फ आर्मी को पेंशन देने में ही जाता है| ऐसे में अगर आर्मी को नए उपकरण खरीदकर उसे मोर्डेन बनाना हो तो पैसे की कमी महसूस होती है| सरकार के द्वारा आर्मी के बजट को कम करने की बहोत कोशिश हो रही है| अगर तुलनात्मक बात करे तो 2005 में पेंशन के पीछे जो रकम खर्च हो रही थी वो 12,715 करोड़ खर्च होती थी और अभी 2020-2021 मे जो रकम पेंशन के पीछे खर्च हो रही है वह तक़रीबन 1,34 हजार करोड़ है| जो की काफी अधिक है|

सरकार के द्वारा दिए गए बजट का 55 से अधिक प्रतिशत सैलरी और पेंशन देने मी खर्च होते है|

Tour of Duty से indian army को क्या लाभ हो सकता है (How can the Indian Army benefit from “Tour of Duty”)

Tour of Duty in indian army से बजट के काफी सारे पैसे को पेंशन में जाने से बचाया जा सकता है|

भविष्य में आर्मी के पास capital expenditure के लिए अधि पैसे हो सकते है जिसे indian army Modernization की जा सकती है|

Tour of Duty का प्लान किसके द्वारा दिया गया है?

Tour of Duty जैसे शब्दों को अमेरिका में और दुसरे देशो में काफी समय से उपयोग में लिया जाता है| भारत में यह तक्षशिला नाम की थिंकटैंक के द्वारा इसे लाया है और सरकार इसा पर आगे के समय काम कर सकती है| थिंक टैंक के द्वारा अभी सरकार को इस के द्वारा सिर्फ 10% पोस्ट भरने की सलाह दी गयी है|

हमें आशा है की आपको Tour of Duty in hindi के सन्दर्भ में सभी इनफार्मेशन मिल गयी होगी अगर आप इससे संतुष्ट है तो इसे अधिक से अधिक लोगो के साथ शेयर करे ताकि अन्य लोगो के साथ भी यह खबर पहोच सके| आगे भी इस पर हम आपको जो भी नयी इनफार्मेशन देंगे जिसे देखने के लिए आप हमसे फेसबुक के माध्यम से भी जुड़ सकते है| धन्यवाद|

यह भी पढ़े:

11 Comments

11 Comments

          • Pingback: what is E-Commerce history in India [Hindi] - Be Expensive

          • Pingback: CCPA क्या है इससे किसे और क्या होगी असर - Be Expensive

          • Pingback: लिपि किसे कहते हैं? बोली, भाषा और लिपि के बिच अंतर क्या है? - Be Expensive

          Leave a Reply

          Your email address will not be published. Required fields are marked *

          Trending