Sensex क्या है और Sensex की गणना कैसे होती है

sensex kya hota hai और सेंसेक्स की गणना कैसे होती है

क्या आप जानते है की sensex kya hota hai और सेंसेक्स की गणना कैसे होती है| अगर आप इस विषय में नहीं जानते है तो हम आपको इस लेख के माध्यम से sensex kya hota haiऔर इसे कैसे calculate करते है, सेंसेक्स की हिस्ट्री क्या है सभी मुद्दों पर इनफार्मेशन देंगे|

आप अक्सर अखबारों और न्यूज़ की चैनल में सेंसेक्स के सन्दर्भ में न्यूज़ देखते होंगे| कभी कभी दिखने को मिलता है की आज सेंसेक्स ने सभी पुराने रिकॉर्ड तोड़ दिए और इतना ऊपर गया तो कभी कभी यह भी दीखने को मिलता है की आज सेंसेक्स में बहोत भारी गिरावट दिखने को मिली|

अगर आप एक अच्छे निवेशक बनाना चाहते है तो आपको sensex kya hota hai यह जानना और सेंसेक्स के सम्बंधित इन सभी प्रश्नों को जानना काफी जरूरी है|

सेंसेक्स क्या होता है (Sensex in Hindi)

Sensex शब्द के अगर कोई प्रणेता माने जाते है तो वह है श्री दीपक मोहोनी जो एक Stock market analyst है | उन्होंने इस शब्द को संवेदनशील और सूचकअंक (Sensitive and Index ) को जोड़ कर बनाया था|

SENSEX = SENSITIVITY + INDEX

How Sensex Word came from

सेंसेक्स जो की मुख्य रूप से BSE (Bombay Stock Exchange) को दर्शाता था| BSE (Bombay Stock Exchange) की स्थापना 1875 में हुई थी लेकिन उसके पास अपना कोई सूचकआंक नहि था| 1986 में BSE के द्वारा इसे अपनाया गया था|
BSE के अंतर्गत 13 विभिन्न क्षेत्रो की 30 बड़ी कंपनी बड़ी कंपनी आती है| सेंसेक्स उन्ही कम्पनी के स्टॉक को दर्शाता है| यह 30 बड़ी कंपनी को दर्शाता है जो भारत की इकॉनमी का 35 % से अधिक हिस्सा है इस वजहसे इसे यह भारत के शेयर बाजार की गति विधि को सही रूप से दर्शाने में समर्थ है|

अगर SENSEX में में तेजी हो और सेंसेक्स बढ़ता हो तो इसका मतलब की शेयर के भाव में वृद्धि हो रही है|
और सेंसेक्स गिरता हो और सेंसेक्स में गिरावट हो तो यह शेयर के भाव में गिरावट को दर्शाता है|

भारत की अर्थव्यवस्था को पहचानने में सेंसेक्स काफी महत्व रखता है

Sensex में कोनसी कंपनी शामिल है|

अभी हमने बात की की सेंसेक्स क्या है और उसकी स्थापना कब हुई थी| अब हम आपको इसमे कौन सी कम्पनी शामिल है उस पर इनफार्मेशन देंगे| यह भारत के विभिन्न क्षेत्रो की 30 बड़ी बड़ी कम्पनी है जो भारत की अर्थव्यवस्था का ट्रेंड सेट करती है| बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में कुल 6500 से भी अधि कंपनी लिस्टेड है लेकिन सेंसेक्स की गिनती करने में मात्र 30 कम्पनी को ही गिना जाता है| निचे उन्ही 30 कम्पनी की सूचि हमने दी हुई है|

NoCompany Name
1 Asian Paints
2 Axis Bank
3 Bajaj Auto
4 Bajaj Finance
5 Bharti Airtel
6 HCL Technologies Ltd
7 HDFC Bank
8 Hero MotoCorp
9 Hindustan Unilever
10Housing Development Finance Corporation
11 ICICI Bank
12 IndusInd Bank
13 Infosys
14 ITC
15 Kotak Mahindra Bank
16 Larsen & Toubro
17 Mahindra & Mahindra
18 Maruti Suzuki
19 Nestle India Ltd
20 NTPC Power
21 Oil and Natural Gas Corporation
22 Power Grid Corporation of India
23 Reliance Industries
24 State Bank of India
25 Sun Pharmaceutical
26 Tata Consultancy Services
27 Tata Steel
28 Tech Mahindra Ltd
29 Titan Co Ltd
30 UltraTech Cement Ltd
12 May 2020

यह 30 कम्पनी को किस आधार पर पसंद किया जाता है|

सेंसेक्स में ककोनसी 30 कंपनी होगी यह तय करने के लिए एक कमिटी होती है जिसे इंडेक्स कमिटी कहते है| इंडेक्स कमिटी में कई इकोनॉमिक्स जाने माने लोग और गवर्नमेंट औए बैंक से जुड़े हुए लोगो का समावेश किया जाता है|

इंडेक्स कमिटी के द्वारा कंपनी का चयन करने के लिए निचे दी गयी बातो को ध्यानमे रखा जाता है|

पहली शर्त यह है कि कम्पनी का न्यूनतम एक साल के लिए Stock Exchange में लिस्टेड होना अनिवार्य है |

दूसरी शर्त : पिचले एक साल में जब भी सेंसेक्स ओपन हुआ और बंध हुआ मतलब की हर दिन उस कम्पनी के शेयर को ख़रीदा या बेचा गया होअना चाहिए| (पिछले एक साल के लिए)

तीसरी शर्त : पिचले एक साल में उस कंपनी की हर दिन की एवरेज ट्रेड वैल्यू उसे से देश की प्रमुख 150 कम्पनी के लिस्ट शामिल कराये उतनी होनी चाहिए|

सेंसेक्स के लिए गणना पद्धति(Sensex calculation in hindi)

पहले weighted market capitalization methodology के आधार पर इसकी गणना होती थी लेकिन, 1 सितंबर 2003 से सेंसेक्स Free Float Market Capitalization methodology के आधार पर इसकी गणना होती है| अभी दुनिया के सभी सूचकआंक एक सामान कार्य प्रणाली का उपयोग करते है|

फ्री-फ्लोट मार्केट कैपिटलाइजेशन = बाजार पूंजीकरण * फ्री फ्लोट फैक्टर

Free-Float Market Capitalization Calculation Formula in Hindi

Free-Float Market Capitalization = Market Capitalization * Free Float Factor

Free-Float Market Capitalization calculation Formula in English

फ्री फ्लोट फैक्टर क्या है?

फ्री फ्लोट फैक्टर यह कंपनी द्वारा जारी किए गए कुल शेयरों का % होता है जो बाजार में ट्रेडिंग करने के लिए कंपनी के द्वारा उपलब्ध किया जाता है| यह शेयर में गवर्नमेंट और प्रमोटर के शेयर की गणना नहीं होती है|

उदाहरण example

एक कंपनी XYZ के पास कुल 100 शेयर है उसमे से 40 % शेयर गवर्नमेंट और प्रमोटर के पास है| और बाकी के 60 % शेयर आम जनता के लिए होगे जो ट्रेडिंग करने के लिए उपलब्ध होगे| तो इसमे कुल शेयर के 60 % यानी हमारे किस्से मे 100 के 60 % = 60 शेयर फ्री फ्लोटिंग शेयर होगे जो ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध होगे, और Free Float Factor 60 % होगा|

Market Capitalization की गणना कैसे होती है?

Market Capitalization की गणना के लिए कंपनी द्वारा जारी किए गए शेयरों की संख्या और शेयर की कीमत को गुणा करने पर मिलते है|

अब इन दोनों की गणना से Market Capitalization और Free Float Factor के गुणा करने से Free-Float Market Capitalization की वैल्यू मिलती है|

अब हम आपको Sensex Calculation कैसे होती है उस पर आसान शब्दों में समाजाते है जिसे आप भी समज सके|

SENSEX kya hota hai and sensex calculation in hindi
sensex kya hota hai

सेंसेक्स की गणना कैसे की जाती है?

इसमे हमने जो आपको लिस्ट दिया उस 30 कंपनी के शेयर को गिनती में लिया जाता है|

हमने ऊपर दिए गए calculation के जरीये आपको समजाय की किसी भी कम्पनी का Market Capitalization और Free Float Factor के गुणा करने से Free-Float Market Capitalization की वैल्यू मिलती है| अब सभी कंपनी के लिए Free-Float Market Capitalization की वैल्यू को निकाला जाता है|

सेंसेक्स की गणना के लिए एक सूत्र है जो की इस प्रकार है,

सेंसेक्स = (कुल मुक्त फ्लोट बाजार पूंजीकरण / बेस बाजार पूंजीकरण) * आधार सूचकांक मूल्य।

Sensex calculation formula in Hindi

Sensex= (total free float market capitalization/ Base market capitalization) * Base index value.

Sensex calculation formula in English

भारत में सेंसेक्स की गणना के लिए आधार वर्ष 1978-79 को माना जाता है| और Base market capitalization के लिए भी 2501.24 करोड़ का उपयोग किया जाता है| आधार सूचकांक मूल्य 100 है।

यह पढ़े : शेयर मार्किट क्या है जाने hindi में

अब हमारे पास SENSEX calculation की गणना के लिय सभी वैल्यू है जिसे हम फार्मूला में जोड़ कर सेंसेक्स को निकाल सकते है|

आज के इस लेख में हमने आपको सेंसेक्स(What is SENSEX in Hindi) क्या होता है, सेंसेक्स में कोनसी कम्पनी लिस्टेड(Which company listed in Sensex in Hindi) होती है, सेंसेक्स में लिस्टेड होने के लिए क्या क्राइटेरिया होता है(Criteria for listing in Sensex in Hindi), और सेंसेक्स की की गणना(how sensex calculation in hindi) कैसे होती है | हमें आशा है की आपको हम अच्छी इनफार्मेशन दे पाए होगे| अगर आपको अभी भी इस विषय में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते है| हमें आपको उत्तर देने और आपकी मदद करने में ख़ुशी होगी |

अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आये हो तो आप इसे अन्य लोगो के साथ शेयर करे | धन्यवाद|

यह भी पढ़े

9 Comments

  1. […] लग भग उसी प्रकार से होती है जिस तरह से सेंसेक्स की गणना की जाती है, लेकिन इस प्रक्रिया में कुछ […]

  2. […] सेंसेक्स क्या है जाने हिन्दी में […]

  3. Now I know what is the process of calculating Sensex

Leave a Reply