Connect with us

Be wealthy

Nifty क्या है? Nifty Fifty आसान भाषा में

Published

on

nifty kya hai nifty fifty

क्या आप जानते है की Nifty क्या है और इसमे किन किन कंपनी समाहित होती है? अगर नहीं जानते है तो यह लेख आपके लिए Nifty क्या है उसे जानने में काफी मदद रूप होने वाला है|

Hello Be Expensive Reader……अभीतक हमने आपको शेयर बाज़ार के सन्दर्भ में काफी इनफार्मेशन प्रदान की है जोकि आपके लिए काफी उपयोगी है| निफ्टी और सेंसेक्स दोनों सूचकअंक है शेयर बाजार के हमने आपको पहले ही शेयर बाजार sensex सभी के बारेमे इनफार्मेशन दी है हमें आशा है की आपने वो भी लेख पढ़े होंगे| अगर नहीं पढ़े है तो आर्टिकल के निचे लिंक दी हुई है|

निफ्टी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) द्वारा शुरू किए गए भारतीय शेयर बाजार के प्रमुख सूचकांकों में से एक है| इस ब्लॉग में nifty क्या है(Nifty kya hai) उसे कैसे गिना जाता है?, इन्फ्टी में कोनसी कंपनी सामिल है?, nifty में कंपनी कैसे पसंद की जाती है और nifty से फायदा क्या है ? उन सभी को हम आज के इस लेख में आपको बताएँगे| सबसे पहले nifty क्या है उसे समजते है|

Nifty क्या है?(Nifty kya hai)

Nifty = National + Fifty

Nifty या Nifty Fifty शब्द कैसे आया

Nifty दो शब्दों नेशनल और fifty को मिलाकर बना है| Nifty भारत के दो प्रमुख stock exchange NSE और BSE मे से National Stock Exchange(NSE) का सूचकांक है| इसे अन्य नाम NIfty Fifty से भी जाना जाता है क्योंकि इसमे 50 कम्पनी के शेयर शामिल होते है जो NSE में registerd है| अभी इसमें 51 कंपनीज शामिल है|

यह कंपनी जैसा प्रदर्शन करती है वेसा NIfty के सूचक अंक में बदलाव आता है| अगर कम्पनी अच्छा प्रदर्शन करती है तो उसके शेयर में उछाल दिखने को मिलता है और जिसकी इफ़ेक्ट nifty पर पड़ती है| इन 50 कंपनी के शेयर में वृद्धि से nifty में उछाल आता है और जब कंपनी ख़राब प्रदर्शन कराती है तो nifty में भी गिरावट दिखने को मिलती है| भारतीय शेयर बाजार के केवल दो प्रमुख सूचकांक हैं जो सेंसेक्स और निफ्टी हैं उसी ही भारत के अर्थतंत्र का अंदाजा लगा सकते है|

Nifty में कोनसी कंपनी शामिल है?

हमने पहले बताया की Nifty में 50 कंपनी शामिल होती है और उसी से ही निफ्टी का सूचक अंक तैयार होता है| निचे दी गयी लिस्ट अभी nifty में शामिल कंपनी की है| 24 सेक्टरों में से 50 शीर्ष शेयरों का चयन किया जाता है|

1Adani Ports
2Asian Paints
3Axis Bank
4Bajaj Auto
5Bajaj Finance
6Bajaj Finserv
7Bharti Airtel
8Bharti Infratel
9BPCL
10Britannia Industries
11Cipla
12Coal India
13Dr. Reddy’s Laboratories
14Eicher Motors
15GAIL
16Grasim Industries
17HCL Technologies
18HDFC
19HDFC Bank
20Hero MotoCorp
21Hindalco Industries
22Hindustan Unilever
23ICICI Bank
24IndusInd Bank
25Infosys
26IOC
27ITC Limited
28JSW Steel
29Kotak Mahindra Bank
30Larsen & Toubro
31Mahindra & Mahindra
32Maruti Suzuki
33Nestle India
34NTPC
35ONGC
36PowerGrid Corporation of India
37Reliance Industries
38Shree Cement
39State Bank of India
40Sun Pharmaceutical
41Tata Consultancy Services
42Tata Motors
43Tata Steel
44Tech Mahindra
45Titan Company
46UltraTech Cement
47United Phosphorus Limited
48Vedanta
49Wipro
50Zee Entertainment Enterprises
यह विकीपीडिया से लिया गया है

ऊपर दर्शायी गयी कम्पनी Nifty Fifty कंपनी कहलाती है और उसी से ही NIfty सूचकअंक तैयार होता है| अब जानते है की Nifty Fifty में आने के लिए कंपनी को कोनसी शर्त को पूर्ण करना होगा|

nifty kya hai

Nifty Fifty में शामिल होने के मापदंड

  • यह कंपनी National stock exchange के साथ registerd होनी चाहिए|
  • कंपनी की ट्रेडिंग फ्रीक्वेंसी 100% होनी चाहिए मतलब की पिछले 6 माह से कम्पनी में हर दिन जब भी मार्केट खुला और बंध हुआ हो उसमे शेयर को ख़रीदा या बेचा गया हो| आसान भाषा में हरदिन कंपनी के शेयर ख़रीदे या बेचे गए हो|
  • फ्री-फ्लोट मार्केट कैपिटलाइजेशन जिस भी कंपनी का इंडेक्स हुई सबसे सबसे छोटी कंपनी के 1.5 गुणा होना चाहिए| फ्री फ्लोट मार्किट कैपिटलाइजेशन के बारे में हमने आपको कैलकुलेशन के समय समजाया है|
  • सूचकांक में शामिल होने के लिए, स्टॉक को 90% ऑब्जरवेशन के लिए पिछले छह महीनों के दौरान 0.50% या उससे कम की औसत पर कारोबार होना चाहिए|

ऊपर दर्शायी गयी चारो शर्त को पूर्ण कराती कंपनी Nifty Fifty में शामिल हो सकती है| उसे एक समिति के द्वारा पसंद किया जाता है जो इकोनॉमिस्ट और गवर्नमेंट के अधिकारी और इकोनॉमिक्स से जुड़े अन्य लोग इसमे शामिल होते है| बी हम आपको Nifty की गणना कैसे होती है वह समजाते है|

Nifty की गणना कैसे होती है?

निफ्टी की गणना लग भग उसी प्रकार से होती है जिस तरह से सेंसेक्स की गणना की जाती है, लेकिन इस प्रक्रिया में कुछ अंतर हैं जो नीचेदर्शाए गए है|

Nifty को गिनने के लिय उपयोग में लिया जाने वाला formula:

सूचकांक मूल्य = वर्तमान बाजार मूल्य / आधार बाजार पूंजी * आधार सूचकांक मूल्य (1000)

Index Value = Current Market Value / Base Market Capital * Base Index Value (1000)

Market Capitalisation = Outstanding Shares * Market Price of the Products

free float market capitalisation = Outstanding Shares * Market Price of the Products * IWF

Nifty के लिए आधार वर्ष 1995 लिया जाता है जब की आधार मूल्य 1000 लिया जाता है|

निफ्टी के कैलकुलेशन के लिए हम आपको बहोत ही जल्द और आसानी से समज में आये इस तरह का लेख देंगे|

Nifty के फायदे क्या है ?

  • अगर Nifty में listed company के share बढ़ते है तो company का business भी बढ़ता है|
  • निफ्टी से देश की अर्थव्यवस्था की जानकारी मिल शकती है|
  • 24 से ज्यादा sector की 50 से अधिक कंपनी को इसमे सामिल किया गया है जिसे मार्केट में स्टेबिलिटी मिलाती है और लॉन्ग टर्म में फायदा पहुचता है|
  • निफ्टी में listed कंपनियों के share सबसे ज्यादा खरीदे व बेचे जाते है|
  • निफ्टी help से company के फायदे व नुकसान की जानकारी मिल जाती है|
  • Market में होने वाली तेजी व मंदी की सटीक जानकारी मिलती है|
  • खरीद और बिक्री में लागत कम होती है जिसे ट्रेडर को फायदा होता है|

Sensex और Nifty में क्या अंतर है?

आम तौर पर देखे तो सेंसेक्स और निफ्टी में कीच ख़ास अंतर नहीं है| Nifty नेशनल स्टॉक एक्सचेंज को दर्शाता है जब की sensex बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को दर्शाता है|

सेंसेक्स में 30 कंपनी का मिलकर सूचकअंक बनाया जाता है जब की Nifty में 50 कंपनी के शेयर को मिलाकर सूचकअंक बनता है|

पिछले 20 वर्षो के इतिहास में अगर दोनों के प्रदर्शन पर नजर डाले तो उनमे कोई ख़ास फेरफार नहीं है| लेकिन nifty के मूकबले sensex में अधिक ट्रेड होता है|

Next Nifty Fifty kya hai ?

यह उस कंपनी का लिस्ट है जो Nifty Fifty के बाद आती है| उसे भी 50 की संख्या में लेने की वजह से उसे next nifty fifty कहा जाता है| यां कंपनी भविष्य में main fifty कंपनी में शामिल हो सकती है| इसी लिए इनका महत्व काफी बढ़ जाता है| Next Nifty Fiftyके बारे में हम आपको जल्द ही एक पीडीएफ देंगे जिसमे सभी इनफार्मेशन होगी|

हमें आशा है की आपको Nifty क्या है(Nifty kya hai)?, वह कैसे कार्य करता है?, उसमे कोनसी कंपनी शामिल है?, Nifty के फायदे क्या है ? और Nifty और sensex के बिच क्या अंतर है यह समज में आ गया होगा| आने वाले दिनों में हम आपको उसकी गणना कैसे की जाती है? उसपर भी एक अच्छे से समज में आये वेसा आर्टिकल डे देंगे जिसे आप यह आसानी से समज सके|


अगर आपको Nifty kya hai के बारे में यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे| इस लेख के बारे में आपको कोई भी सुजाव है तो आपक कमेंट कर के हमें बता शकते है|

यह भी पढ़े:

Advertisement
2 Comments

2 Comments

  1. Pingback: Market capitalization क्या होता है ? उसके प्रकार - Be Expensive

  2. Pingback: IPO और FPO क्या है और उनके बिच अंतर क्या है ? - Be Expensive

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

Advertisement

Trending