भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति अब नहीं रहे जाने उनके बारे में

Mysterious person of india

भारत में कई बार कुछ ऐसे किस्से दिखने को मिलते है की खुद ही देखे या सुने फिर भी यकीन करना काफी मुश्किल होता है| आज के इस लेख में इसी तरह के एक व्यक्ति जो पिछले 70 वर्षो से अधिक समय तक भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति के रूप में जाने जाते रहे है|

प्रहलाद जानी जो भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति के रूप में जाने जाते है| रहस्यमयी व्यक्ति के रूप में जाने जाने के पीछे का कारण यह है की उन्होंने 70 वर्ष से अधिक समय तक बिना खाना खाए अपना जीवन व्यतीत किया है| आईये अब जानते है की भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति की पूरी कहानी क्या है|

प्रहलाद जानी कौन है और भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति क्यों है ?

प्रहलाद जानी “माताजी” उपनाम से भी पहचाने जाते थे और उनका जन्म 13 अगस्त 1929 में हुआ था|

माताजी का गाँव चराडा है जो गुजरात में स्थित है| वह अपने जीवन को सन्यासी की तरह व्यतीत करते थे| वह अपने परिवेश को एक सन्यासी की तरह रखते थे| पुरे गुजरात और भारत में “चुंदरी वाले माताजी” के नाम से पहचाने जाते थे| उनके परिवार में 25 से अधिक लोग थे|

प्रहलाद जानी “माताजी” उपनाम से भी पहचाने जाते है उन्होंने अपनी 14 साल की उम्र में ही घर परिवार को छोड़ा था साथ ही अन्न और जल का त्याग किया था| उन्होंने अपने जीवन के 70 से अधिक वर्ष बिना कुछ खाए और पिए व्यतीत किये थे| और यही बात विज्ञान के लिए एक चुनौती बनी हुई थी|

भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति प्रहलाद जानी के बारे में विज्ञानं क्या कहता था|

किसी भी व्यक्ति के लिए सिर्फ कुछ दिनों के लिए ही खाना खाए और पानी पिने के बिना रहना काफी मुश्किल है| ऐसे में जब कोई व्यक्ति इतने वर्षो तक इस तरह से रहता है तो इसे चमत्कार ही माना जाए ये सामान्य बात है| हम भी जानते है की विज्ञानं कभी भी चमत्कार में विश्वास नहीं रखता है इस लिए दो बार अलग अलग विज्ञानं की संस्था ने उनपर प्रयोग किये थे|

जब विज्ञानं ने उनकी चुनौती को स्वीकार कर उन्हें कुछ दिनों के लिए अहमदाबाद की एक प्रसिद्द अस्पताल में 10 से अधिक दिनों तक रखा था| उनका रोज सेहत चेकिं किया जाता था ऐसा दस दिनों तक चला था| लेकिन दस दिन के बाद जब उनके शरीर में कोई भी बदलाव नहीं दिखाए तब विज्ञानं ने भी उनके सामने अपनी हार स्वीकार की|

इनके बारे में सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि इसरो सहित कई और विज्ञानं सम्बंधित संस्था जानना चाहती थी की उनके शरीर में ऐसा क्या बदलाव है जिसकी वजह से ये इतने साल तक बिना खाए पिए जीवित रह सकते है|

एक बार DRDO के द्वारा भी उन पर 15 दिन तक लगातार CCTV के द्वारा ऑब्जरवेशन किया था लेकिन उन्हें भी इस विषय में सिर्फ चमत्कार के अलावा कुछ हांसिल नहीं हुआ|

विज्ञानं ये कभी नहीं समज सका की भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति का इस तरह से जीवित रहना कैसे संभव है|

भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति की मृत्य

प्रहलाद जानी भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति की मृत्य 26 मई 2020 के दिन सुबह में हुई थी| इससे उनकी कई भक्त जो उनको माताजी का स्वरुप मानते थे उनमे गहरा सदमा पंहुचा है| विज्ञान और इस विषय में रूचि रखने वाले लोग भी इससे काफी दुखी है क्योंकि अब इस विषय से कभी पर्दा नहीं उठाया जा सकेंगा की कोई व्यक्ति इतने दिन तक खाए और पिए बिना कैसे रह सकता है|

अंधश्रद्धा एक अलग विषय है लेकिन जब कुछ ऐसी बात है जब विज्ञानं भी इसके सामने कुछ नहीं कर सकता तब उसे चमत्कार ही मानना पड़ता है| हमें आशा है की आपको प्रहलाद जानी कौन है और भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति क्यों माने जाते थे इस विषय में अच्छी इनफार्मेशन मिली होगी| अगर आपके पास भी इस विषय में कोई जानकारी है तो आप कमेंट कर सकते है| धन्यवाद|

यह भी पढ़े

1 thought on “भारत के सबसे रहस्यमयी व्यक्ति अब नहीं रहे जाने उनके बारे में”

  1. Pingback: अंगकोर वाट: विश्व का सबसे बड़ा धर्मस्थल - Be Expensive

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *