Connect with us

Be wealthy

Enterprise Value in Hindi share market

Published

on

Enterprise Value in Hindi

Enterprise Value in Hindi: Hello Be Expensive Reader….यहाँ पर हम आपको शेयर मार्किट के सन्दर्भ में काफी अच्छी इनफार्मेशन दे रहे है जिसे आप शेयर मार्केट के सन्दर्भ में सभी टर्म और ratio को समज सके| आज के इस लेख से हम आपको Enterprise Value in Hindi के बारे में इनफार्मेशन देंगे जो आपको आगे जाके निवेश में काफी मदद कर सके|

अभीतक हमने आपको शेयर मार्किट, nifty, म्यूच्यूअल फण्ड, market capitalization, और PE ratio के बारे में इनफार्मेशन दी है| अगर आपने उसे नहीं पढ़ा है और आप उस विषय में नहीं जानते है तो हम यह सलाह देते है की Enterprise Value in hindi को पढ़ने से आपको पहले उसे पढ़ना चाहिए ताकि आने वाले सभी टर्म और ratio को समजने में आसानी हो|

Enterprise Value क्या है ?

Enterprise Value क्या है इसे समजने के लिए आपको सबसे पहले Market Capitalization को समजने की आवश्यकता है| Market Capitalization में हम शेयर की price और शेयर की कुल संख्या से गुना करने पर वैल्यू मिलती है| अगर आप Market Capitalization के बारे में अधिक इनफार्मेशन के लिए यहाँ क्लिक करे|

Enterprise Value की गणना करने के लिए निचे दिए गए सूत्र का प्रयोग किया जाता है|

Enterprise Value = Value Of Market Capitalization + Total Short Term Debt + Total Long Term Debt – Total Cash & Cash Equivalent

Value Of Market Capitalization को हम शेयर प्राइस और शेयर की संख्या के आधारपर गणना की जाती है,

Total Short Term Debt वो है जो कंपनी के द्वारा कम समय के लिए गयी लोन या उधार पैसे

Total Long Term Debt वो है जो लम्बे समय के लिए कंपनी के द्वारा लिए गयी लोन या उधार पैसे

Total Cash & Cash Equivalent वो है जो कंपनी के पास पैसे होते है या जो भी एसेट्स होते है|

Enterprise Value को एक उदहारण के माध्यम से समजे|

अगर आप एक कंपनी को खरीदने जा रहे है, जिसकी Value Of Market Capitalization 100 करोड़ है| जब आप इसे खरीदते है तो आपके पास वह सिर्फ सिर्फ कंपनी के रूप में ही नहीं पर उसकी पूरी लोन और अस्सेट्स के साथ आती है| अब कंपनी पर Short Term Debt 10 करोड़ है जब की Long Term Debt 20 करोड़ है| और कंपनी के पास Cash & Cash Equivalent के रूप में 5 करोड़ है|

Enterprise Value = Value Of Market Capitalization + Total Short Term Debt + Total Long Term Debt – Total Cash & Cash Equivalent

= 100 करोड़ + 10 करोड़ + 20 करोड़ – 5 करोड़

Enterprise Value = 125 करोड़

Enterprise Value से क्या निष्कर्ष निकल सकता है|

अगर कोई कंपनी ऐसी है जिसकी Market Capitalization वैल्यू से Debt अधिक हो तो Enterprise Value पॉजिटिव मिलती है|

कंपनी की Market Capitalization वैल्यू और Debt वैल्यू से अगर Total Cash & Cash Equivalent ज्यादा होगी तो Enterprise Value नेगेटिव भी मिल सकती है|

अगर आप किसी अच्छी वेबसाइट पर जाए तो और अलग अलग कंपनी को चेक करेगे तो हो सकता है की उनकी Enterprise Value पॉजिटिव भी हो सकती है या नेगेटिव भी लेकिन सिर्फ इसी को आधार बना कर कोई बी निर्णय नहीं लेना है| और भी रिसर्च करने के बाद ही कोई निर्णय पर आना चाहिए|

हमें आशा है की आपको हमारा यह लेख Enterprise Value in Hindi पसंद आया होगा और आपको अच्छी जानकारी मिली होगी अगर आपको इस विषय में कोई भी जानकारी चाहिए तो आप कमेंट कर पुछ सकते है|

यह भी पढ़े

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook

Advertisement

Trending