Connect with us

Be wealthy

Annuity meaning in Hindi | Annuity kya hai | Types| Benefits

Published

on

Annuity क्या है?(annuity meaning in Hindi)

हम में से बहोत से लोग ऐसे होते है जिन्हें यह नहीं पता होता है की anniuty क्या है?(annuity meaning in hindi) अगर आप भी उन लोगो में से एक है तो हम आपके लिए यह बेहतरीन लेख लाये है| जिसमे हम आपसे एन्युटी(annuity meaning in hindi) क्या है? इसके लाभ क्या है और प्रकार क्या है जैसे महत्वपूर्ण इनफार्मेशन शेयर करेंगे| जिससे इस के सन्दर्भ में जो भी भ्रांति को दूर कर सके|

Annuity क्या है?(annuity meaning in Hindi)

Annuity को हिंदी में वार्षिकी कहा जाता है| लेकिन इए भत्ता के परिपेक्ष्य में वार्षिक भत्ता भी कहा जाता है|

इसे रिटायरमेंट पोर्टफोलियो का एक काफी महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है| इसमे रिटायरमेंट के बाद भी एक इनकम के सोर्स के लिए उपयोग में लिया जाता है| Annuity एक तरह का करार है जो की एक व्यक्ति और किसी insurance कंपनी के बिच होता है| इसे करने के पीछे का मुख्य मकसद सुरक्षा, और आजीवन आय(Lifetime income) होता है|

इसे एक तरह से निवेश भी कहा जा सकता है, जो एक निश्चित राशि का करना होता है| बाद में यह राशि किश्तों में या एक साथ वापिस ली जा सकती है जिससे बुढापे में जीवन को सरल बनाया जा सके|

Annuity कार्य कैसे करती है?(How does it work)

इस Annuity सेवा के लिए investment कंपनी को पेमेंट की जाती है| यह राशी दो तरह से दी जा सकती है किश्तों में दी जाए या एक साथ ही दी जाए| यह पेमेंट की मेथड आपके द्वारा पसंद की गयी Annuity पर आधारित होती है|

पुरे Annuity को दो हिस्सों में विभाजित किया जा सकता है, Accumulation और Annuitization(जिसे Payout phase भी कहा जाता है)|

  • Accumulation phase में आप जब Annuity के insurance कंपनी को पैसे जमा करते है| इसमे आपको एक निश्चित समय मर्यादा तक ही पैसे को जमा कराना होता है बाद में जमा कराना नहीं होता|
  • Annuitization phase में insurance कंपनी आपको Payout करती है| यह भी आपके द्वारा पसंद की गयी Annuity पर आधारित होता है की आपको एक साथ पूरी रकम मिले या किश्तों में थोड़ी थोड़ी राशी मिले|

Types of Annuity

पालिसी धारक के द्वारा यह तय किया जाता है की उसे किस तरह की Annuity स्कीम चाहिए| Annuity के मुख्यत्व रूप से दो प्रकार होते है| जो कुछ इस तरह है..

  • Immediate Annuity
  • Deferred Annuity

Immediate Annuity

यह कुछ इस तरह की एन्युटी होती है जिसमे शुरूआती निवेश करने के बाद तुरंत ही इसमे भुगतान शुरू हो जाता है| यह उन लोगो के लिए काफी लाभकारी है जो लोग बहोत जल्द सेवानिवृत्त होने वाले है|

Deferred Annuity

इस तरह के Annuity प्लान में एक समय के बाद भुगतान मिलता है| इस लिए जिनको अभी सेवानिवृत्त होने में समय है उनके लिए यह काफी अच्छा है|

Types of Annuity based on Payout

अभी हमने जाने की Annuity के प्रकार कितने होते है| लेकिन अब हम जानते है की इसे payout के सन्दर्भ में किस तरह से विभाजित किया जाता है| payout के सन्दर्भ में इसे कई तरह से विभाजित किया जाता है|

Life Annuity

इस तरह की एन्युटी में पहले से तय की हुई राशी उपभोक्ता को पुरे जीवन भर मिलती है| लेकिन इसमें पहले जो पैसे उपभोक्ता में जमा किये है उसे नहीं मिलता|

Life Annuity with Return of Corpus

इसमे उपभोक्ता को एक तय की हुई राशी पुरे जीवन भर प्राप्त होती रहती है| लेकिन इसके साथ Return of Corpus यानी उपभोक्ता ने जो राशी को पे किया था उसे भी मिलती है|

Life Annuity with Joint Life, Last Survivor

इस प्लान में ग्राहक के द्वारा निश्चित की गयी राशि उपभोक्ता को पुरे जीवन भर मिलती है| इसके साथ जब उसकी मृत्यु होती है तब वे राशि या प्लान के अनुरूप जो राशी तय होती है यह उपभोक्ता के जीवन साथी को भी प्राप्त होती है|

Joint Life, Last Survivor with Return of Purchase price

इसमे ग्राहक के द्वारा तय की गयी राशी उसे मिलेगी| उसके जाने के बाद तय राशी उसके जीवन साथी को प्राप्त होती है| जब ग्राहक और उसके जीवन साथी की मृत्यु होती है तो उनके नॉमिनी को Purchase price प्राप्त होती है|

क्या Annuity पर कोई Tax Benefit है?

काफी लोग निवेश को इस तरह से करना चाहते है की उनको टैक्स में राहत मिले| लेकिन वार्षिकी भत्ता में इस तरह के कोई लाभ नहीं है| अर्थात यह किसी भी तरह से पालिसीहोल्डर को टैक्स में लाभ नहीं देता है| साथ ही इससे मिलने वाली राशी को एक आय के रूप में ही गिना जाता है| और उस पर जोभी टैक्स लगते है उसे वसूल भी किये जायेगे|

महत्वपूर्ण बाते (Important fact of Annuity meaning in Hindi)

Annuity को खरीदने से पहले कुछ महत्वपूर्ण बातो को जानना काफी आवश्यक है| जैसे की …

  • इसके लिए आपकी उम्र 18 से लेकर 80 साल के बिच में होनी चाहिए|
  • आप भारत के नागरिक होना आवश्यक है|
  • इसके साथ आप लाइफ insurance प्लान भी ले सकते है|
  • इसे purchase कराने की कीमत उसके फीचर पर आधारित होती है|
  • यह एक टैक्स payable इनकम है| इस पर टैक्स पे करना होता है|
  • सभी व्यक्ति को इसे खरीदने की आवश्यकता नहीं है| जिन लोगो के पास अच्छी रिटायरमेंट फण्ड है उन्हें इसकी आवश्यकता नहीं है|

Annuity और insurance के बिच अंतर(Difference between Annuity and insurance)

दोनों के बिच कई तरह के अंतर है लेकिन इस लेख में हम आपसे महत्वपूर्ण अंतर के बारे में जानकारी प्रदान करते है| Insurance का मुख्य उपयोग किसी के मरने के बाद मिलने वाली राशि पर होता है जब की Annuity में ऐसा नहीं है| इसमे मुख्य रूप से रिटायर लाइफ को ध्यान में रखना होता है| इससे रिटायर लाइफ सरल बनाने एवम अन्य महत्व पूर्ण को पूर्ण करने के लिए शुरू किया जाता है जिसमे सेवानिवृत्त या एक तय समय के बाद पैसे मिलते है|

निष्कर्ष (Annuity meaning in Hindi)

हमें आशा है की आपको Annuities क्या है (Annuity meaning in Hindi) के बारे अच्छी इनफार्मेशन मिली होंगी| अगर आपको और भी इस विषय में कोई प्रश्न है तो हमसे कमेंट करके पुछ सकते है|

Advertisement
1 Comment

1 Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Facebook

    Advertisement

    Trending