21 may – Aatankvaad Virodhi din आतंकवाद नाबूदी

Peace-Humanity

21 may ko Aatankvaad Virodhi din kyo manaya jaata hai?

भारत में 21 मई को आतंक वाद विरोधी दिन(Aatankvaad Virodhi din) मनाया जाता है लेकिन क्या आप जानते है की इसे क्यों मनाया जाता है आतंकवाद विरोधी दिन ?

आज के इस लेख के माध्यम से क्यों आतंकवाद विरोधी दिन मनाया जाता है और और उसके पीछे का मकसद क्या है और कहानी क्या है वह इनफार्मेशन देंगे| तो सबसे पहले हम यह जानते है की इसे आतंकवाद विरोधी दिन को मनाने का कारण क्या है?

आतंकवाद विरोधी दिन को मनाने का कारण

आतानक वाद विरोधी दिन मनाने के पीछे की कहानी हमारे पूर्व और सबसे यंग प्रधानमन्त्री से जुडी हुई है|

जब हमारे पूर्व प्रधानमंत्री राजीवगांधी चुनाव के दौरान रेलिया कर रहे थे तब उनपर आतंकवादी ग्रुप के द्वारा एक हमला कर दिया था और उसमे हमारे पूर्व प्रधान मंत्री राजीवगांधी की हत्या हुई थी| उस दिन तारीख 21 मई थी जब उस वख्त के पधानमंत्री राजीवगांधी तमिलनाडु चुनाव की रेली के लिए गए थे| उनकी रैली तमिलनाडु के श्रीपेराम्बदुर में थी| सुरक्षा के चुक के कारण एक आतंकवादी संगठन की धनु नामकी महिला ने आत्मघाती बम के द्वारा विष्फोट किया और उसमे प्रधानमंत्री श्री राजीव गाँधी की मृत्यु हुई थी|

किस संगठन ने यह हमला किया था

LTTE(Liberation Tigers of Tamil Eelam) जो की एक श्री लंका का अलगाववादी ग्रुप है जिसने मधु नामकी लड़की को ट्रेनिंग दी थी और इस हमले की साजिश की थी|

हमें राष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी दिवस मनाना चाहिए (We Must celebrate National Anti Terrorism Day)

एकता का निर्माण होंगा(Unity will be built)

इससे दुनिया में शांति और मानवता फैलाने में मदद मिलेगी|(This will help spread peace and humanity in the world)

लोगो के बिच रहकर जो यह कार्य कर रहे है उनके प्रति जागरूकता बढ़ेगी|

इससे खास कर युवा वर्ग को इसके प्रभाव से बचाया जा सकता है|(This can especially protect the youth from its effects.)

हमें आशा है की आपको Aatankvaad Virodhi din के सन्दर्भ में पूरी जानकारी मिली होंगी अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आये तो इसे शेयर अवश्य करे ताकि दुसरे लोगो के पास यह Aatankvaad Virodhi din की जानकारी पहोच सके| अगर इस विषय में आपको और कोई भी जानकारी चाहिए तो कमेंट कर के पुछ सकते है|

यह भी पढ़े

2 thoughts on “21 may – Aatankvaad Virodhi din आतंकवाद नाबूदी”

  1. Pingback: 5th June: World Environment Day in Hindi - Be Expensive

  2. Pingback: Important Days in June क्यों मनाये जाते है - Be Expensive

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *